क्षेत्रीय गुणवत्ता मूल्यांकन इकाई – सूरत

आई सी ए आर – सी आई आर सी ओ टी, सूरत की क्षेत्रीय गुणवत्ता मूल्यांकन इकाई सूरत में नवसारी कृषि विश्वविद्यालय के अथवा फार्म में स्थित है। बेहतर तन्तु गुणवत्ता और कताई प्रदर्शन के लिए किस्मों की जाँच में कपास की फसल पर काम कर रहे कृषि वैज्ञानिकों की सहायता के लिए इकाई की स्थापना 1932 में सूरत में की गई थी। यह इकाई सूरत के साथ-साथ गुजरात राज्य के अन्य अनुसंधान केंद्रों में आयोजित विभिन्न कृषि परीक्षणों में सक्रिय भागीदार रही है।

इन परीक्षणों के माध्यम से विकसित कपास के होनहार उपभेदों का तन्तु गुणवत्ता के लिए और आगे मूल्यांकन किया जाता है। विभिन्न कृषि-जलवायु परिस्थितियों में उपभेदों की उपयुक्तता का मूल्यांकन किया जाता है। 1932 में अपनी स्थापना के बाद से कपास की कई किस्मों की रिहाई में उल्लेखनीय भूमिका निभाई है। इन किस्मों को भारत के विभिन्न राज्यों में अपनाया गया और उगाया गया और बर्मा जैसे देशों में इन्हें अपनाया गया।

सुविधाएं

हाई वॉल्यूम इंस्ट्रूमेंट (एच वी आई), डिजिटल फाइब्रोग्राफ, शेफ़ील्ड माइक्रोनेयर, स्टेलोमीटर, ओटाई प्रदर्शन मूल्यांकन और कचरा विभाजक के लिए सी एल ओ वाई प्रयोगशाला ओटनी सहित इकाई कपास की गुणवत्ता मूल्यांकन के लिए अत्याधुनिक सुविधाओं से सुसज्जित है। यह इकाई, कपास के विकसित होने वाले उपभेदों के कपास तन्तु गुणवत्ता का मूल्यांकन करने में प्रजनकों और शोधकर्ताओं का समर्थन करने के अलावा, सूरत और उसके आसपास व्यापारियों और उद्योग को परीक्षण सेवाएँ प्रदान करती है।

किसी भी जांच के लिए संपर्क करें:

श्री जीजी मिस्त्री
वरिष्ठ तकनीकी अधिकारी

पता:    

सी आई आर सी ओ टी की क्षेत्रीय क्यूई इकाई, सूरत
कृषि फार्म, अठवा, सूरत – 395007